Chandrayaan 2 के साथ क्या हुआ ? What happened to Chandrayaan 2?

what happened to chandrayaan 2?

हेलो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि Chandrayaan-2 के साथ क्या हुआ।  क्या chandrayaan-2 फेल हुआ ?

आज से करीब 48 दिन पहले ISRO  ने Chandrayaan-2 को चाँद की तरफ भेजा ताकि हम चाँद की और अधिक इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकें। 7 सितंबर की रात को हम सब ने देखा और हम सब टीवी से आंखे लगाए हुए थे ताकि हम chandrayaan-2 को चाँद पर land होता हुआ देख सकें।

 लेकिन बीच में तकनीकी खराबी आने के कारण हम वह नहीं देख पाए। आज हम चर्चा करेंगे कि  chandrayaan-2 का क्या हुआ?

 Chandrayaan-2 के parts कौन-कौन से थे:

1.Orbiter

Chandrayaan 2 के साथ क्या हुआ
what happened to chandrayaan 2?

 Orbiter  चंद्रयान का एक मुख्य part है.  ऑर्बिटल ही है जो कि चांद के ऑर्बिट में घूम रहा था।  इसका weight लगभग 2300 kg hai और इसमें 8 payloads की कैपेसिटी है।

 अगर बात करें chandrayaan-2 की तो इसका Orbiter बिल्कुल सही है और कोई भी तकनीकी खराबी नहीं पाई गईयह अभी भी proper  काम कर रहा है और चंद्रमा के चारों तरफ घूम रहा है।

2. VIKRAM Lander

what happened to chandrayaan 2?
Vikram lander

 जो दूसरा मुख्य भाग chandrayaan-2 का है वह है Vikram lander। Vikram Lander Orbiter से जुड़ा हुआ है।  और chandrayaan-2 को जब लैंड होना था तो orbiter में से Vikram lander को अलग होना था। Vikram lander का वजन लगभग 1500 kg है। और इसी Vikram lander  के अंदर प्रज्ञान rover था। जो गड़बड़ी हुई है वह Vikram Lander की हीं हुई है। इसके बारे में हम आपको विस्तार से नीचे बताएंगे ।


3. Pragyaan Rover

pragyaan rover

 प्रज्ञान ग्रोवर chandrayaan-2 का एक मुख्य भाग है। यह एक device है जोकि चांद की सतह पर चल सकता है। इसकी speed  लगभग 1 cm पर सेकंड है। 

Chandrayaan-2 properly land क्यों नहीं कर पाया?

what happened to chandrayaan 2?

 देखिए सूत्रों के मुताबिक यह पता चला है कि जब Chandrayaan-2 चांद के ऊपर था लगभग 100 किलोमीटर ऊपर,  तब ISRO ने बेंगलुरु हेड क्वार्टर से एक सिग्नल भेजना था जिससे कि Vikram lander Orbiter से अलग हो जाए और चांद की सतह की तरफ बढ़े। Vikram lander  का वजन लगभग 1500 kg था इसीलिए उसकी लैंडिंग को soft बनाने के लिए liquid thruster engines लगाए गए थे ताकि Vikram lander आसानी से चांद की सतह पर पहुंच जाएं! 

अब हुआ यह कि Vikram lander  जैसे ही चांद की सतह से सिर्फ 2.1 km  दूर था तो Orbiter or Vikam lander का connection  बीच में ही टूट गया! Connection कटने का कारण अभी तक पता नहीं चला है! जैसे ही कनेक्शन टूट गया  तो जाहिर सी बात है की Vikram lander or Pragyan Rover crash कर गया होगा।

 अभी हमें कोई भी जानकारी नहीं है कि इस समय Vikram lander का क्या हुआ? 

देखे Chandrayaan-2 को हम बिल्कुल भी failure नहीं कह सकते क्योंकि 48 दिनों में इसने लगभग 384000 किलोमीटर का डिस्टेंस कवर किया है !

India  उन चुनिंदा  देशों में से है जिनका orbiter  आज भी चंद्रमा और मंगल ग्रह पर विराजमान है! आशा करते हैं आप को पता चल गया होगा कि chandrayaan-2 के साथ क्या हुआ?

 अभी तो Chandrayaan 3  भी आना है।

 जैसे ही कोई अपडेट मिलता है हम आपको बता देंगे! 

 हमारी website को ज्यादा से ज्यादा शेयर करिए ताकि और लोगों को भी पता चल सके!

You May Also Like

About the Author: Aadarsh Chaudhary

Aadarsh Chaudhary is the Founder of ‘Trend Saints’. I have a very deep interest in all current trending topics . I am 21. Blogging is my passion. Hope you will enjoy our content as much as we like to offer it to you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *